Home » HINDI SHAYARI » Best hindi shayari, 2020 hindi shayari

Best hindi shayari, 2020 hindi shayari

आँखों में रहा दिल में उतर कर नहीं देखा
कस्ती के मुसाफिर ने समंदर नहीं देखा

बेवक्त अगर आऊंगा ,सब चौंक पड़ेंगे
इक उम्र हुई दिन में कभी घर नहीं देखा

ankhon mein raha dil mein utar kar nahi dekha
kasti ke musaphir ne samandar nahi dekha

bewakt agar aaunga ,sab chaunk padenge
ik umra hui din mein kabhi ghar nahi dekha

 

जिस दिन से चला हूँ मेरी मंजिल पे नजर है
आँखों ने कभी मील का पत्थर नहीं देखा

ये फूल मुझे विरासत में मिले हैं
तुमने मेरा काँटों भरा बिस्तर नहीं देखा

jis din se chala hoon meri manjil pe najar hai
ankhon ne kabhi meel ka patthar nahi dekha

ye phool mujhe viraasat mein mile hain
tumane mera kaanton bhara bistar nahi dekha

 

पत्थर मुझे कहता है मेरा चाहने वाला
मैं मोम हूँ उसने मुझे छूकर नहीं देखा

कातिल के तरफ़दार का कहना है की उसने
मकतूल की गर्दन पे कभी सर नहीं देखा

patthar mujhe kahata hai mera chaahane vaala
main mom hoon usane mujhe chhookar nahi dekha

kaatil ke tarafadaar ka kahana hai kee usane
makatool kee gardan pe kabhee sar nahin dekha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *